Make Create To Do List Hindi Kaise Banaye To do list

दोस्तों आप भी ज़िंदगी में success हासिल करना चाहते हैं तो आपको To Do list Create करके ही काम करना होगा। दुनिया का हर सफल आदमी To Do List बनाकर ही काम करता है।

आपको आज के इस Article में हम ये बताएंगे कि Effective To do List कैसे बनाते हैं? How to Make To Do List in Hindi? और ये भी कि To Do List के Advantages क्या हैं इसको कैसे बनाना चाहिए कि समय की बचत हो सके और बेहतरीन तरीके से हम अपना कार्य कर सकें।

आपने अपनी Life में कभी न कभी Time Table तो ज़रूर बनाया होगा। पर क्या हम उस time table के अनुसार कभी कार्य कर सके। अगर किये भी तो कितने दिनों तक? मुश्किल से 4-5 दिन। आपको पता है ऐसा क्यों होता है? क्योंकि हम हर दिन का कार्य और समय पहले से ही निर्धारित कर देते हैं और फिर कोई बाधा आ जाती है। और ये भी नही आंका जा सकता है कि भविष्य में क्या होगा? बस यहीं काम आती है "To Do List". To Do List रोज का रोज बनाई जाती है और इसमे वही कार्य लिखे जाते हैं कि जो बहुत आवश्यक हों और जिन्हें किया जा सके।

कुछ लोग To Do List रात में बना लेते हैं और अगले दिन उसके अनुसार कार्य करते हैं और कुछ सुबह बनाकर कार्य करते हैं। मैं सुबह बनाता हूँ क्योंकि इसमें जल्दी उठने की बाध्यता नही रहती है।

Contents


To Do List कैसे बनाये? How to Create To Do List in Hindi


आपको To Do List बनाने के लिए इन Steps को Follow करना चाहिए। -

1- किसी भी एक App जैसे कि Google Sheets या Docs या Keep Notes को इनस्टॉल करें

आप कोई भी एक App को install कर लीजिए। ये App google के ही हैं इन तीनों में से आप कोई भी Install कर लीजिए। ये App आपकी Productivity बढ़ाने में Help करेंगे।

इसके अलावा To Do List बनाने के भी App आते हैं। पर आप कोई एक टेक्स्ट एडिटर डाउनलोड कर लीजिए। ये बेहतर रहेगा। हांलाकि आप अभ्यास पुस्तिका आदि भी इस्तेमाल कर सकते हैं। पर Digital India बनाने में आप Help कर सकते हैं अगर अधिकतर हर कार्य Digitalize कर लें तो। बेहतर है आप किसी App को install कर लें।


2- प्रतिदिन सुुुबह उठकर 15 मिनट To Do List को बनाने में लगाएं और Urgent & Important Task Note कर लें

सुबह उठकर 15 मिनट का समय जो to do list बनाने में आप लगाएंगे वो आपके कई घण्टे बचा सकता है।

आपको सुबह उठना है। आप सुबह कभी भी उठ सकते हैं, मैं कोई Early to Bed and Early to Rise वाला concept नही बता रहा हूँ। आप आराम से उठिए। इसके बाद फ्रेश होकर आप सोच लीजिये कि आपको आज दिन में कौन-कौन से ज़रूरी Task करना हैं और उनको note कर लें। आप To do list में स्कूल जाना या office जाना जैसे कार्य भी लिख सकते हैं।

अब आपको सबसे Important या Urgent Task पता करना है। कि दिनभर का सबसे ज़रूरी काम कौन सा है उस लिस्ट में। Obviously स्कूल जाना या office जाना आपको नही सोचना। ऐसे काम जिनपर आपका बस हो कि आप उसे कब कर सकते हैं।

School या office की timing आपके हाथ में नही है। इसलिए उसे मत सोचें।

For Example आप To do List कुछ ऐसे बना सकते हैं।

1- स्कूल जाना / आफिस जाना

2- कहानी/ भाषण / कविता लिखना

3- घूमने जाना

4- मनोरंजन

5- पढ़ना

अब आप इन टास्क में लगने वाले समय को भी लिख सकते हैं।

मान लीजिए आप 6-7 घण्टे सोते हैं। तो 24 घण्टे में से उतना टाइम हटा दीजिये। अब 17 घण्टे बचते हैं जिनमे से आप 1-2 घण्टे खाना पीना और कुछ कार्य के मान लीजिए। अब आपके पास 15 घण्टे हैं। जिनमे से 8 घण्टे का विद्यालय / आफिस हुआ। अब आपके पास 7 घण्टे बचे। अब बाकी कार्य को इन 7 घण्टों में बांटिए। कहानी, भाषण या कविता लिखने के लिए 2 घण्टे और पढ़ने के लिए ढाई घण्टे और बचे ढाई घण्टे में से डेढ़ घण्टे घूमने और 1 घण्टा मनोरंजन को दे सकते हैं। तो आपकी to do list कुछ ऐसी बनेगी।


1- स्कूल जाना / आफिस जाना - 8 घण्टे ( आने जाने का समय मिलाकर)

2- कहानी/ भाषण / कविता लिखना - 2 घण्टे

3- घूमने जाना - 1.5 घण्टे

4- मनोरंजन - 1 घण्टा

5- पढ़ना - 2.5 घण्टे

3- सबसे Important Task यानी कि Urgent Task को खत्म करने का लक्ष्य रखें

कहा जाता है कि 90% लोग अपने दिन का सबसे ज़रूरी Task यानी कि Urgent Task खत्म ही नही कर पाते। या कर ही नही पाते। बाकी इधर उधर के कामों में पूरा दिन निकाल देते हैं।

तो अगर आप अपना Most Important Task खत्म कर लेंगे Urgent Task को समाप्त कर लेंगे तो already आप उन 10% सफल लोगों में आ जाएंगे।

Most Important Task को खत्म करना लगभग 80% प्रोडक्टिव होना होता है। तो अपना सबसे महत्वपूर्ण टास्क सेलेक्ट करें और उसको खत्म करने का लक्ष्य बनाएं और to do list में उसको Priority दें।

जैसे ऊपर दिए Example में कविता/कहानी/भाषण लिखना या पढ़ाई इनमे से कोई एक most important task हो सकता है। अगर आप विद्यार्थी हैं तो Obviously पढ़ाई खत्म करना Most Important या Urgent Task होगा। पर इसके अलावा और कुछ सीखना या लिखना भी हो सकता है। मैं मान के चल रहा हूँ कि भाषण लिखना सबसे ज़रूरी कार्य है। तो मैं इसे खत्म करने का Target रखूंगा। To do list में से इसको क्रॉस करने की सोचूंगा।

तो सुबह office जाने से पहले मैं भाषण पौन घण्टे देकर भाषण की research करूँगा और उसके सोर्सेज एक जगह नोट कर लूंगा। 

फिर ऑफिस से आकर उसको सवा घण्टे देकर समाप्त करूँगा। फिर डेढ़ घण्टे घूमने जाऊंगा। उसके पश्चात ढाई घण्टे का अध्ययन करूँगा फिर 1 घण्टा मनोरंजन के लिए कोई वीडियो फ़िल्म या सीरीज देखूंगा। 

4- रात में Analyze करें कितना काम To do list के हिसाब से हुआ और क्या शेष रहा

आप सबसे पहले देखिये क्या आपका सबसे आवश्यक कार्य हो गया या नही। अगर नही हुआ तो अगले दिन सबसे पहले उसको खत्म करने का लक्ष्य रखिये। हांलाकि अगर आप सही से करेंगे तो हो ही जायेगा फिर भी Worst Case Scenario लेकर चलता हूँ कि कुछ रह गया। पर कुछ दिन तक ऐसे काम करने से यकीनन आप प्रोडक्टिव हो जाएंगे।

5- बधाई (Congrats! ) आप दुनिया के 10% सफल लोगों में शामिल होने वाले हैं

अगर आप ऐसे कार्य करते हैं नियमित रूप से। तो एक दिन दुनिया के 10% सफल लोगों में आप ज़रूर दिखाई देंगे। समय सारणी बनाकर कोई सफल नही हो पाया है। पर दुनिया के सफल लोग To do List ज़रूर बनाते हैं। 

Conclusion: दुनिया के Successful लोग हमेशा To Do List बनाकर कार्य करते हैैं। वजह पता 
है क्या है? इसका flexible होना। To Do List रोज की रोज बनाई जाती है। अतः इसमें हम जो Goals बनाते हैं वो Smart, Measurable और Achievable होते हैं।

क्या अबसे आप To Do List बनाकर कार्य करेंगे? कैसा लगा आपको यह आर्टिकल? अच्छा लगा हो तो दोस्तों को भी Share करें। उन्हें भी प्रोडक्टिव बनाएं।